Famous Aadmi Kaise Bane, Whatsapp, Facebook Ki Founder Ki Tarah

2
पाना है जो मुकाम वो अभी बाकि है,
अभी तो आये है जमी पर, आसमां की उड़ान अभी बाकि है.
अभी तो सुना है सिर्फ लोगो ने मेरा नाम,
इस नाम की पहचान बनाना अभी बाकि है.
पुल की ताकत (Power of a Bridge) – अपने अपनों के लिए पुल बनिए, किनारे नहीं. अपने सारे लोग हमसे आस लगाए बैठे होते है ….लकड़ी का पूल, लोहे का पुल, पेड़ रख कर पार करने के लिए पुल, पत्थर रखकर बनाया गया पुल, जरा बताइए कौन से पुल ने इंसान का रास्ता आसान नहीं किया ?क्या गूगल, फेसबुक, व्हाट्सएप्प हम इंसानों को एक दूसरे से जोड़ कर दुनिया में पुल का काम नहीं कर रहे हैं. जी हाँ इन सब ने इंसानों की दुनिया में पुल का काम किया.

इंसान अपनी जिंदगी में अकेला है क्योँकि वो दूसरों के लिए दीवारें खड़ी कर रहा है, जिस दिन वो दूसरों की जिंदगी में पुल का काम करने लग जायेगा, उसी दिन से वो अपनी जिंदगी आसान कर लेगा.

Image Sorse– News First
क्या पुल ने कभी किसी आने जाने वाले से अपेक्षा की है की वो उसके लिए कुछ करे, नहीं ? बस उसका काम है दूसरों के लिए “समय की बचत” करना. चाहे घर पहुँचने घर पहुँचाने के लिए, चाहे ऑफिस घर पहुँचाने के लिए या चाहे कहीं भी.
पुल ने हमेशा इंसान हो या जानवर सबकी मदद की है.मित्रों सोचो हमें कोई काम है और हमने उस काम के लिए “अपनी नज़र में सबसे उपयुक्त आदमी”, जी हाँ “अपनी नज़र में सबसे उपयुक्त आदमी” को संपर्क किया. अब यहाँ पर तीन बातें हो सकती है :-

1) उस आदमी ने एक दम से हमारा वो काम करने से मना कर दिया या वो टाल मटोल या बहानेबाजी करने लगा.

2) उस आदमी ने एक दम से हमारा वो काम कर दिया.

3) उस आदमी को उस काम के बारे में तो कोई जानकारी नहीं थी तो उसने हमें किसी और के बारे में बता दिया.

मित्रों उपरोक्त 1 Point में हमारे अंदर से उस आदमी के लिए जो नकारात्मक ऊर्जा निकली तो अंजाने में ही उस आदमी ने हमारे द्वारा मन में बोली गई नकारात्मक ऊर्जा ग्रहण कर ली, क्या कभी हमने इस बात पर ध्यान दिया है, नहीं ना.
और उपरोक्त 2 और 3 Point में हमारे अंदर से उस आदमी के लिए सकारात्मक ऊर्जा निकली.

मित्रों 2 और 3 के लिए दूसरे आदमी ने हमारे लिए “पुल” का काम किया और हमारा काम आसानी से हो गया और सबसे बड़ी बात हमने भी उसके लिए सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह किया. जबकि 1 में उस आदमी ने हमसे नकारात्मक ऊर्जा ग्रहण की. (हाँ अगर उस काम की उसे बिलकुल भी जानकारी नहीं है या उसकी जान पहचान वाला भी कोई नहीं है तो उस स्थिति में हमारी नकारात्मक ऊर्जा का उसके ऊपर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा).

अब अब अब आते असली मुद्दे पर, अब आते हैं अपने ऊपर, मित्रों याद करके देखते हैं कि हम आज तक कितनो के लिए पुल बने हैं और अगर नहीं तो क्या दूसरे आदमी ने जिसने हमें उस काम के लिए “सबसे सर्वोत्तम माना और याद किया”, जी हाँ “सबसे सर्वोत्तम माना, तो हमने उपरोक्त 1,2,3 Point में से उस वक़्त उसके साथ क्या किया, जरा ध्यान करके देखिये.

मित्रों यह बहुत ही महत्वपूर्ण para है, जरा ध्यान से पढियेगा :-
जैसे दूसरे द्वारा हमारे बोले हुए काम को न करने पर हम उसके लिए पीठ पीछे नकारात्मक ऊर्जा प्रवाहित करते हैं – उसी प्रकार हमारे द्वारा दूसरों के बताये हुए “कामों को न करने से”, हम भी दूसरों द्वारा छोड़ी गई “नकारात्मक ऊर्जा न चाहते हुए भी ग्रहण” कर लेते हैं और दूसरे के लिए “पुल की तरह काम” कर जाने की स्थिति में “सकारात्मक ऊर्जा हमारे अंदर खुद बा खुद आ जाती है, इन दोनों सच्चाइयों को हमें किसी भी हाल में जानना और पहचानना ही होगा.
(हाँ अगर उस काम की हमें बिलकुल भी जानकारी नहीं है तो उस स्थिति में नकारात्मक ऊर्जा का हमारे उपर कोई प्रभाव नहीं पड़ता पर “अगर जानते हुए हमने वो काम नहीं किया” तो समझिए हमारे ऊपर नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव पड़ना निश्चित है).

इसलिए मित्रों हमेशा पुल बनिए, अपने अपनों के लिए. अपने सारे लोग हमसे आस लगाए बैठे होते है, उनके किसी काम के लिए  “न बोल कर” हम नदी के दो किनारे बनने के बजाये हमेशा पुल बनें क्योँकि दो किनारे बनने पर हम जिंदगी में हमेशा अकेले रह जाते हैं जबकि पुल बनकर हमारा इंसानी रूप में जन्म लेना ईश्वर की नजर तथा अपनी नज़र में सही साबित होता है.पुल की तरह काम करते करते वो दिन दूर नहीं जब दुनिया हमें भी गूगल, फेसबुक, व्हाट्सएप्प की तरह पहचानेगी और हम कहेंगे :
पाना है जो मुकाम वो अभी बाकि है,
अभी तो आये है जमी पर, आसमां की उड़ान अभी बाकि है.
अभी तो सुना है सिर्फ लोगो ने मेरा नाम,
इस नाम की पहचान बनाना अभी बाकि है.
Hello Friends anytechinfo.com Galti Se  Hack ho gaya tha… ab phir se aaya hu ,aaplog hame phir se sahyog kare.
SHARE
Previous articleKisi bhi Person Ka Facebook Id All Time Ke Liye Kaise Band Kare
Next articleDND क्या hai? DND Ko Activate/Deactivate Kaise Kare
मै Ravi Kr, मै एक Teacher(math,Computer) हूँ,और साथ मे Intrtnet Aur Technology पर artical लिखना मुझे पसंद है,मै फ्री-टाइम में AnyTechinfo.com पर चुनिन्दा हिंदी/Hinglish पोस्ट्स डालता हूँ. आप सभी से request है इस साईट को सफल बनाने की मेरी कोशिश में अपना सहयोग दें. अगर आपको यह Post अच्छा लगा हो तो कृपया इसे Facebook And Other Social Media पर Share जरूर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे Article लिखने के लिए प्रेरित करेगा| AnyTechinfo.com को The best Hindi Blog बनाने के लिए बस आप लोग अपना साथ बनाए रखे और हमें सपोर्ट करते रहें.

2 COMMENTS

  1. बहुत ही अच्छी और ज्ञानवर्धक पोस्ट !
    बहुत धन्यवाद रवि !

    वैसे मैं आपको 2 सुझाव देना चाहता हूँ !

    1. Page आपका load लेने में काफी टाइम लगता है, ये आपके bounce rate को बिगार देगा जो SEO के लिए सही नहीं है !

    2. आप heading को सोच समझ कर दे, इस पोस्ट का heading है facebook, whatsapp की तरह आदमी कैसे बने ? ये आदमी नहीं website और apps है मुझे लगता है आ founder भूल गए है !

    thanks !

LEAVE A REPLY