Hardwork के साथ Smartwork से Success(सफलता) मिलती है

3

मित्रों मैं अपने पूरे जीवन में अनेक उतार चढ़ाव को  बरी नजदीक से देखा है,साधारण गाँव में रहकर अपने को सफलता की ओर अग्रसर रहने की चाहत ही आपको जीवन की सारी सुख सुविधा मिल सकती है,मित्रों लक्ष्मी की प्राप्ति तभी होगी, आज के समय में धन जिसके पास है, वो दुनिया की हर सुख सुविधा खरीद सकता है,परिश्रम से मानसिक व शारीरिक चुस्ती मिलती है,आज के समय में परिश्रम नहीं करने पर बहुत सी बीमारियाँ शरीर में घर कर लेती है,

इसलिए तंदरुस्ती,स्फूर्ति के लिए शारीरिक श्रम करने को बोला जाता है,जिस वजह से कुछ लोग जिम में भी समय बिताने लगते हैं, परिश्रम से हमारे जीवन में व्यस्ता रहती है,जिससे किसी भी तरह की नकारात्मक बातें हमारे जीवन में नहीं आ पाती,व इससे मन अंदर से शांति महसूस करता है,परिश्रमी व्यक्ति हमेंशा सफलता की ओर अग्रसर रहता है,और वही समय समय पर सफलता का स्वाद भी चखते है,आलसी व्यक्ति हमेंशा दुखी, परेशान होता है,
वह अपने जीवन को कोसता रहता है,वह यहाँ वहां की शैतानी बातें सोचकर दुखी रहता है,वह अपने हर काम के लिए दूसरों पर निर्भर रहना पसंद करता है,उसे लगता है,कोई और उसकी जगह मेहनत कर दे,लेकिन ये दुनिया का सबसे बड़ा सच है कि अपना बोझ व्यक्ति को स्वयं उठाना पड़ता है,उसे अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए खुद ही परिश्रम करना होगा,इसमें उसकी मदद कोई भी नहीं कर  सकता,परिश्रमी के जीवन में प्रसन्नता,शांति, सफ़लता बनी रहती है
मित्रों दुनियां के सफल व्यक्तियों के जीवन को देखें तो जानेगें, उन्हें पहली बार में ही सफलता नहीं मिली थी,निरंतर प्रयास से वे अपने मुकाम तक पहुंचे थे,
कई उदाहरण के तौर पर हैं अगर कोई फिल्म स्टार पहले ही ये सोच लेता कि उसे यहाँ काम नहीं मिलेगा तो वह आज इतना बड़ा स्टार न बनता,
—  अगर धीरुभाई अम्बानी उस छोटी सी कुटिया में बस बैठे रहते,मेहनत न करते तो आज इतना बड़ा अम्बानी का कारोबार न होता,
—  अगर अब्राहम लिंकन परिश्रम न करते स्ट्रीट लाइट में बैठकर पढाई न करते तो वे अमेरिका के राष्ट्रपति कभी न बन पाते,
—  नरेंद्र मोदी जी परिश्रम न करते तो आज चाय की ही दुकान में बैठे होते,
ये महान हस्तियाँ हमें यही सिखाती है कि हार कर घर नहीं बैठो,बल्कि उठो आगे बढ़ो,क्यूंकि हर सुबह उम्मीद की एक नयी किरण लाती है,हमें नया दिन मिला है,मतलब परमेश्वर के पास अभी भी हमारे लिए एक अच्छी योजना है,जो हमारे भलाई के लिए है,न कि हमें नष्ट करने के लिए,परिश्रम के बल पर दुनिया में हर चीज संभव है,
इसलिये मित्रों हाथ पर हाथ रखकर या दिनभर दूसरों की बुराई करके समय नष्ट नहीं करें, जीबन एक अनमोल रत्न है,आप भी बन सकते बर्तमान और भुत का आइना जिसे देखकर मेरे बर्तमान और भबिस्य के बच्चे एबं समाज दोनों सबरते हैं,
SHARE
Previous articleAndroid 7.0 Nougat Ke 10 Tips & Tricks In Hindi
Next articleBina Phone Root 2G Aur 3G Phone Me Reliance Jio Chalaye, Jio Ka Bada Ailan
मै Ravi Kr, मै एक Teacher(math,Computer) हूँ,और साथ मे Intrtnet Aur Technology पर artical लिखना मुझे पसंद है,मै फ्री-टाइम में AnyTechinfo.com पर चुनिन्दा हिंदी/Hinglish पोस्ट्स डालता हूँ. आप सभी से request है इस साईट को सफल बनाने की मेरी कोशिश में अपना सहयोग दें. अगर आपको यह Post अच्छा लगा हो तो कृपया इसे Facebook And Other Social Media पर Share जरूर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे Article लिखने के लिए प्रेरित करेगा| AnyTechinfo.com को The best Hindi Blog बनाने के लिए बस आप लोग अपना साथ बनाए रखे और हमें सपोर्ट करते रहें.

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY