PGDM Course क्या है और PGDM (Post Graduate Diploma In Management) Course कैसे करे ? पीजीडीएम कोर्स योग्यताएं,सैलरी,फीस,फुल फॉर्म क्या है इसकी जानकारी । What is PGDM Course And Eligibility, Job, Salary, Admission, Fees in Hindi

0

PGDM Course क्या है और कैसे करे ? : आज के समय में सभी लोग जीवन में सफलता चाहते हैं। अधिकतर लोगों के लिए जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए एक बेहतरीन और सम्मानजनक नौकरी काफी होती है। लेकिन आज की कंपटीशन से भरे हुए जमाने में एक अच्छी सैलरी वाली नौकरी प्राप्त करना आसान नहीं होता।

सम्मानजनक और अच्छी सैलरी वाली नौकरी प्राप्त करने के लिए आपको शुरुआत से ही सही कदम उठाने पड़ते हैं। इसके लिए आपको दसवीं के बाद आपकी रूचि के अनुसार सही सब्जेक्ट और 12वीं के बाद सही कोर्स और फिर उसके बाद फिर एक सही मास्टर कोर्स चुनना होता है।

अगर आप Google पर सर्च करके देखोगे तो आज के समय में ऐसे लाखों कोर्स मिल जाएंगे जो ग्रेजुएशन के बाद या फिर 12वीं या ग्रेजुएशन करने के बाद किए जा सकते हैं। इतने सारे कोर्स और अपनी रुचि पैदा ना होने के कारण कोई भी व्यक्ति Confuse हो जाता हैं।

कई बार एक छोटे से गलत चुनाव के कारण पूरी जिंदगी पछताना पड़ता है। ऐसे में हमेशा सही कोर्स का चुनाव जरूरी है। सबसे पहले तो उसी कोर्स का चुनाव करें जिसमें आपको रुचि हो। अगर आपकी रुचि मैनेजमेंट में है तो जरूरी नहीं कि MBA ही सब कुछ हैं। आप PGDM Course भी कर सकते हो। आज के इस लेख में हम ‘PGDM Course क्या हैं और कैसे करे ? Pgdm course kya hai, Pgdm kaise kare, Pgdm ki fees kitni hai, Pgdm me kitne subject hote hai, Pgdm best collage in india इससे सम्बन्धित विषय पर बात करेंगे ।

PGDM Course

PGDM Course की फुल फॉर्म क्या हैं – Full Form of PGDM Course in Hindi or pgdm meaning in hindi – pgdm full form

PGDM को समझने से पहले यह जानना  जरूरी हैब की PGDM Course की फुल फॉर्म क्या होती हैं। PGDM एक शार्ट फॉर्म हैं। PGDM का पूरा नाम ‘Post Graduate Diploma in Management’ हैं। अगर PGDM की Full Form हिंदी में देखी जाए तो यह प्रबंधन में स्नातकोत्तर डिप्लोमाहोगा। यह समझने में थोड़ा मुश्किल लगता है लेकिन इससे बिजनेस मैनेजमेंट में मिलने वाला डिप्लोमा कहा जा सकते हैं।

PGDM Course क्या हैं ? What is PGDM (Post Graduate Diploma In Management) Course in Hindi

PGDM Course उन लोगो के लिए सबसे बेहतरीन कोर्स  में से एक हैं जो मैनेजमेंट करना चाहते हैं। यह कॉर्ड डिग्री के लिए बल्कि डिप्लोमा के लिए होता हैं। PGDM को मैनेजमेंट के फील्ड में मिलने वाला डिप्लोमा बोलते हैं। Course या फिर कहे तो Post Graduate Diploma in Management एक ऐसा कोर्स हैं जिसमे Business Industries और Management के विभिन्न पहलुओ में आने वाली दिक्कतों या परचिदगियो से निपटना सिखाया जाता हैं।

यानी की जो यानी प्राइवेट जॉब करना चाहता हो या फिर बिजनेस इंडस्ट्री में जाना चाहते हो उसके लिए यह कोर्स बिल्कुल सही हैं। PGDM कोर्स की Duration 2 साल की होती हैं। यानी की यह एक 2 साल का कोर्स होता हैं। अगर आप सोच रहे हो की यह MBA जैसा है जिसे Graduation के बाद ही करते हैं।

यह 2 साल का मैनेजमेंट कोर्स हमे Finance, Marketing, International Business, HR और इस तरह के अन्य बिजनेस संबंधित सब्जेक्ट्स में Specialization देता हैं। काफी सारे Experts और Students इस कोर्स को Suggest करते हैं क्योंकि यह कोर्स Workplace का किसी भी तरह के Business Industry के Private Job में आने वाली दिक्कतों को संभालने लिए Students के Minds को Sharp बनाता हैं। यही कारण हैं की यह डिप्लोमा लवर्स ग्रेजुएशन के बाद होता हैं।

इस कोर्स को मुख्यतः Graduation के बाद ही किया जाता हैं लेकिन Graduation मैनेजमेंट कोर्स से होनी चाहिए। लेकिन किसी भी Stream से Graduate हुए Studengt PGDM Course यानी की Post Graduate Diploma in Management कर सकते हैं।

इस कोर्स  को करने के लिए सबसे पहले Students को Entrance Exam पास करनी होती हैं। Entrance Exam पास करने के बाद ही यह कोर्स किया जा सकता हैं। भारत में इस कोर्स के लिए MAT, CAT और XAT जैसी अन्य Exams होती हैं।

इस कोर्स को उन Students के लिए ही बनाया गया है जो बिजनेस मैनेजमेंट यानी कि व्यवसाय प्रबंध में माहिरता हासिल करने की कामना करते हैं। अक्सर लोग MBA और PGDM को एक समझ लेते हैं। भले ही इनका मकसद एक ही हो लेकिन कही न कही दोनो कोर्स में Skills ऑड Explanation का फर्क हैं। लेकिन तो अपने अनुसार इन दोनो में से किसी का भी चुनाव कर सकते हो।

PGDM Course के लिए क्या योग्यताएं – Eligibilities for PGDM Course in Hindi

PGDM Course किसी भी स्टीम का व्यक्ति कर सकता हैं। इस कोर्स को मैनेजमेंट या फिर कहे तो व्यवसाय प्रबंध में माहिर था हासिल करने के लिए किया जाता है। इसे आप एक मास्टर कोर्स कर सकते हैं जिसे डिप्लोमा के लिए करते हैं।

पीजीडीएम कोर्स यानी कि पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा ऑफ मैनेजमेंट को किसी भी कॉलेज में करने के लिए ग्रेजुएशन पूरी करना आवश्यक है। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कौनसे Steam से हो लेकिन किसी भी मैनेजमेंट कोर्स में ग्रेजुएशन करना आवश्यक हैं।

इसके अलावा दूसरी मुख्य बात पीजीडीएम कोर्स करने के लिए यह है कि इस कोर्स को करने के लिए कॉलेज डिग्री में 50 से 70% मार्क्स आवश्यक है। यानी कि आपने जिस कॉलेज से ग्रेजुएशन पूरी की है उस कॉलेज से 50 से 70% की डिग्री आवश्यक होती है। इसके अलावा बेसिक रिक्वायरमेंट्स में आधार कार्ड और डाक्यूमेंट्स आदि की ओरिजिनल कॉपी आती है।

पीजीडीएम कोर्स करने के फ़ायदे । Benefits Of PGDM Course in Hindi

  • सबसे बड़ा फ़ायदा ये है यह MBA के तुलना में काफ़ी कम खर्चीला है और Degree की Value लगभग बराबर है ।
  • यह कोर्स करने के बाद Business में काफ़ी अच्छा अनुभव हो जाता है ।
  • इस कोर्स को आप Distance Mode में भी कर सकते है ।

PGDM Course कैसे करे ? – PGDM Course Admission Process in Hindi

पीजीडीएम कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको पता होना चाहिए कि PGDM Course के एडमिशन प्रोसेस क्या है। Post Graduation Diploma of Management कोर्स करने के लिए आपको सबसे पहले एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है।

यह एंट्रेंस एग्जाम किसी रिस्पेक्टिव इंस्टिट्यूशन या फिर इंस्टीट्यूशंस के एक ग्रुप के द्वारा की आयोजित होती हैं। एग्जाम में भाग लेकर अच्छे मार्क्स प्राप्त करने के बाद ही कोर्स करने की प्रक्रिया आगे बढ़ाई जा सकती है।

एंट्रेंस एग्जाम में पास होने के बाद स्टूडेंट्स को इंस्टिट्यूशन में Personal Interview के लिए बुलाया जाता हैं। इसके अलावा Writter Ability Test (WAT) और Group Discussion (GD) के जरिये Students को परखा जाता हैं।

इसके बाद जिस स्टूडेंट की इन सभी Levels पर यानी की Entrance Exam, Written Ability Test, Group Discussion और Personal Interview में अच्छी परफॉर्मेस रहती है उसे Institution में PGDMCourse करने की अनुमति मिल जाती हैं। Institution का चुनाव आपको ही करना होता हैं।

PGDM Course की फीस – PGDM Course Fees Info in Hindi

PGDM Course की फीस भी अन्य कोर्स की तरह विभिन्न हो सकती है। पीजीडीएम कोर्स की फीस भी अन्य सभी कोर्स की तरह है कॉलेज पर डिपेंड करती है। लेकिन सामान्यत है इस कोर्स को करने की फीस एक लाख से लेकर 20 लाख तक हो सकती है। एंट्रेंस एग्जाम में अच्छे Marks से पास होने पर आपको कम फीस में भी एक अच्छा Collage मिल जाता हैं।

PGDM Course के बाद क्या सैलरी मिलती हैं – PGDM Course Salary in Hindi

PGDM कोर्स की सैलरी कोई फिक्स नही हैं। आपकी Skills और कम्पनी के चुनाव ओर यह निर्धारित होती हैं। लेकिन PGDM Course  करने वाले एक Begginer की शुरुआती Salary भी 6.5 लाख से लेकर 12 लाख सालाना तक हो सकती हैं। यह कोर्स भी Salary के हिसाब से उतना ही फायदेमंद हैं जितना की MBA होता हैं।

PGDM Subject List – PGDM विषय सूची – Post Graduate Diploma in Management (PGDM) Syllabus

Sr. No.Subjects of Study
1Financial Accounting
2Business Economics
3Basics of Mathematics and Statistics
4Business English

Post Graduate Diploma in Management (PGDM) Job Types – PGDM Course करने के बाद किस तरह का नौकरी मिलता है ?

  • Accountant
  • Executive Director & Head
  • Hotel & Catering Manager
  • Logistics
  • Manager
  • Public Relation Officer
  • Publisher & Columnist
  • Retailing Manager
  • Sale-purchase Assist. Manager
  • Teacher & Professor
  • Tourism Manager

MBA और PGDM में क्या अंतर है ? Difference Between MBA And PGDM

MBA एक मास्टर Degree Course है और PGDM एक डिप्लोमा कोर्स है ।

So Guys, आज के इस लेख में हमने PGDM Course से जुड़ी हुई बात की। उम्मीद है आपको हमारा आज का यह लेख पसन्द आया होगा। इस लेख में हमने ‘PGDM Course क्या है और PGDM (Post Graduate Diploma In Management) Course कैसे करे ? पीजीडीएम कोर्स योग्यताएं,सैलरी,फीस,फुल फॉर्म क्या है इसकी जानकारी । What is PGDM Course And Eligibility, Job, Salary, Admission, Fees in Hindi’ के साथ PGDM Course Eligibility, Job, Salary, Admission, Fees आदि की जानकारी दी हैं।

जवाब दे

अपना कोमेंट लिखे
अपना नाम लिखे

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.